मोदी का लॉक डाउन विश्व के लिए प्रेरणादायक संदेश

बांकेलाल निषाद

मोदी का लॉक डाउन विश्व के लिए प्रेरणादायक संदेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी -के आदेश से 24 मार्च की रात 12:00 बजे के बाद से पूरे देश में कोरोना के बचाव हेतु लॉक डाउन प्रभावी हो गया है। कुछेक चुनिंदा गाड़ियों विभागों, जवानों एवं कुछेक सरकारी कर्मियों को छोड़कर पूरे देश में सन्नाटा रहेगा । कोरोना जैसी संक्रमित वायरस से देश के पास बचने का और कोई मार्ग नहीं है । हैवानियत की हद पार कर विषैले जानवरों के अमानवीय भक्षण के परिणाम स्वरूप चीन की तरकश से निकला कोरोना वायरस अमेरिका फ्रांस, ब्रिटेन, उत्तरी कोरिया, इटली जैसे सैकड़ों दिग्गज समेत लगभग पूरे विश्व को अपने आगोश में ले चुका है। समय रहते न चेतने की वजह से आज दुनिया त्रस्त है। इटली जैसा देश जहां की जनसंख्या मात्र 6 करोड़ है और विश्व की उच्च स्तरीय स्वास्थ्य व्यवस्था में उसका दूसरा स्थान है लेकिन वहां की सरकार कोरोना जैसे संक्रमित महामारी से अपने देशवासियों को नहीं बचा पायी और वहां मौत का आंकड़ा प्रतिदिन 1000 के लगभग पहुंच गया । अंततः इटली के प्रधानमंत्री अपनी बेबसी दिखाते हुए अपनी देश की जनता को बचाने के लिए भगवान भरोसे रो-रो कर प्रार्थना कर रहे हैं । अमेरिका जैसी महाशक्ति भी कोरोना बाढ़ नियंत्रण में नाकाम साबित हो रहा है । इन देशों की तुलना में हमारे देश में 135 करोड़ जनसंख्या है और स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने में पूरे विश्व में 112 वां स्थान है । तो जरा सोचिए हमारा देश कोरोनावायरस का कैसे सामना कर पाएगा? इसलिए प्रधानमंत्री मोदी द्वारा लिया गया 21 दिन लाक डाउन का यह निर्णय हमको कोरोना से बचाने का एकमात्र विकल्प है ।देश का हर एक नागरिक प्रधानमंत्री के इस आदेश का सख्ती से पालन करे । अपने आपको अपने घर में अपने परिवार में केंद्रित करे। अपने आपको खुद एक जिम्मेदार नागरिक समझे और अपनी जिंदगी और देश के लोगों की जिंदगी बचाने के लिए इस आदेश का पालन करना एवं पालन करवाने में शासन-प्रशासन की मदद करे ।अपनी जान को जोखिम में डालकर देश के जवान, मीडिया कर्मी ,पुलिस कर्मी, अस्पताल कर्मी आदि आपकी रक्षा करते रहेंगे और देश के मीडिया कर्मी आपको पल-पल की खबरें घर पर बैठे ही अपडेट करते रहें ।आप देश के हर एक नागरिक खुद मोदी बन जाइए, खुद देश का एक सजग प्रहरी की तरह जवान बन जाइए, खुद एक सेकंड भगवान के रूप में डॉक्टर बन जाइए ,अगल-बगल कहीं भी कोई आफत आती है तो उसके लिए खुद पुलिसकर्मी बन जाइए और हमारे देश के किसान भाइयों 21 दिन के अंदर अपनी रवि के फसलों की कटाई- मड़ाई में बहुत ही कम मजदूर लगाकर अपना काम निपटा लीजिये।आइए और खुद को बचाइए, देश को बचाइए इस सिद्धांत पर चलकर पूरे देशवासियों से अपील है प्रधानमंत्री मोदी के साथ खड़े होइए, खुद सुरक्षित रहें और देश को भी सुरक्षित रखने में मदद करें। इसके पालन में शासन-प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े होइए ताकि शासन प्रशासन को कहीं किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत का सामना न करना पड़े ।पूरे विश्व के निगाहें इस समय भारत पर है। प्रधानमंत्री मोदी को विश्व की दूसरी नंबर की जनसंख्या वाले देश भारत को हंड्रेड परसेंट कोरोना से बचाकर पूरे विश्व को अपनी कुशल नेतृत्व की छमता दिखाने की एक चुनौती है ।सोने की चिड़िया ,विश्व गुरु की उपाधियों से विभूषित भारत को विश्व के सामने एक बार पुनः कोरोना जैसी महामारी से बचने की अग्नि परीक्षा की घड़ी सामने मुंह बाए खड़ी है जिसको पास करने मे प्रधानमंत्री की मदद देश का हर एक नागरिक करे। जिससे कि भारत को पूरे विश्व पटल पर इस बीमारी से बचने का एकमात्र प्रेरणादायक देश बनने का सौभाग्य प्राप्त हो सके।

Back to top button