रामस्वरूप इंजीनियरिंग कॉलेज में महिला समेत 23 विदेशी नागरिक किए गए क्वॉरेंटाइन बीबीडी चौकी इंचार्ज का अहम रोल पूरी तरह से निगरानी मेंजुटे

ए अहमद सौदागर

लखनऊ। एक ओर जहां देश व प्रदेश में महंगाई की मार तो दूसरी तरफ कोरोनावायरस जैसी फैली महामारी का कहर।
विदेश से जमात में शामिल होने आए कई जमाती महामारी की चपेट में आ गए तो पूरे राजधानी लखनऊ हड़कंप मचने के साथ लोग दहशत में आ गए।
इस ख़तरनाक बीमारी को देखते हुए संबंधित विभाग और पुलिस प्रशासन ने सरकारी अस्पतालो में जगह कम होने चलते रेल डिब्बों के साथ कई निजी स्कूलों एवं कालेज को अतिरिक्त जेल अस्पताल की व्यवस्थाएं करनी पड़ी।
इसी कड़ी में कई दिनों से पुराने लखनऊ में कशमीर मोहल्ला में क्वॉरेंटाइन किए गए महिलाएं सहित 23 एक विदेशी लोगों को जेल से लाकर चिनहट थाना क्षेत्र के फैजाबाद रोड स्थित रामस्वरूप इंजीनियरिंग कॉलेज मे अस्थाई जेल बनाकर उन्हें क्वॉरेंटाइन किया गया।
इनकी निगरानी में जेल प्रशासन के अलावा चिनहट पुलिस को भी तैनात किया गया है।
वही गहन नजर डालें तो इस्पेक्टर चिनहट की टीम जेल प्रशासन से कहीं ज्यादा मुस्तैद नजर आ रही के अलावा
बीबीडी चौकी प्रभारी प्रियंवद मिश्रा वअन्य पुलिसकर्मी पूरी तरह से विदेशी नागरिकों की देखरेख के लिए मुस्तैद है।
वही महिला पुलिसकर्मी भी विदेशी महिलाओं की देखरेख के लिए अपनी जान जोखिम में डालकर उनकी हर समय खैरियत लेने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है।

Back to top button