जेसीपी ने अलीगंज में महानगर का किया निरीक्षण सोशल डिस्टैसिंग के जाने का लोगों से की अपील लाडाउन का उल्लंघन किया तो होगी कार्रवाई, ज्वाइन कमिश्नर

ए अहमद सौदागर

लखनऊ। कहते हैं कि अपराधी मौका ए वारदात पर कोई ना कोई सुबूत छोड़ जाता है, जिसके आधार पर पुलिस कातिल या फिर लुटेरों तक पहुंच जाती है।
लेकिन देश व प्रदेश में कोरोनावायरस जैसी फैली महामारी बीमारी का पता लगाने में संबंधित विभाग या फिर पुलिस अफसरो को इस समय उन्हें पकड़ना मुश्किल पढ़ रहा है, जिसके शरीर में वायरस का लक्षण मिलने से हां कार मच रहा है।
लॉक डाउन के के दूसरे चरण में उम्मीद जताई जा रही थी की इस महामारी से निजात मिल सकेगा, लेकिन आए दिन गिरावट होने के बाद फिलहाल इजाफा होता ही नजर आ रहा है।
कहीं जमातियों में वायरस का लक्षण मिल रहा है तो कहीं अन्य लोगों में लक्षण मिलने का सिलसिला बदस्तूर जारी है इसे लेकर शासन प्रशासन लगातार हॉटस्पॉट इलाके से लेकर अन्य क्षेत्रों में निरीक्षण करने के लिए डेरा डाले हुए है।
वहीं रोज की तरह गुरुवार को भी ज्वाइन कमिश्नर नवीन अरोड़ा अलीगंज वह महानगर में जाकर का निरीक्षण किया। बताया गया कि उन्होंने दुकानदारों को साफ सफाई एवं सोशल डिस्टेंसिंग किए जाने के लिए निर्देशित किया।
इस खतरनाक महामारी को लेकर हर शख्स के भीतर मानव एक खौफ भरा नजर आ रहा है।
वही पुलिस अधिकारी एवं उनके कर्मचारी अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों से लगातार अपील करने में जुटे हुए हैं की लोग एक दूसरे से दूरी बनाएं और अपने अपने घरों में ही रहे तो इस महामारी से निजात मिल सकता है।
हालांकि इस दौरान कुछ लोग सड़क पर निकलते समय पुलिसकर्मियों से बहस भी करते नजर आ रहे हैं। इसके बावजूद भी पुलिसकर्मी उनकी सारी बातों को बर्दाश्त करते हुए समझाने में जुटे रहते हैं।
वही इस मामले में पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे भी पूरी तरह से सख्त तेवर मे नज़र आ रहे हैं। उनका कहना है कि लाक डाउन के दौरान कोई भी व्यक्ति इसका उल्लंघन किया तो उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जा सकती है।
इस मामले में जेसीपी नवीन अरोड़ा का कहना है कि इस दौरान अगर कोई शख्स पुलिसकर्मियों से भिड़ा तो उसके साथ कड़ाई से निपटा जाएगा।
जेसीपी ने गुरुवार को मंडी सचिव के साथ मंडी क्षेत्र का जायजा लेने के साथ-साथ बैरिकेडिंग सीसीटीवी कैमरे और अनाउंसमेंट सिस्टम का गहन निरीक्षण किया।

Back to top button