जलालपुर प्रशासन को सपा विधायक की धमकी का सच धमकी के बाद सरैया में पहुंचा जलालपुर प्रशासन डीहभियांव, जल्दीपुर बाकी

अंबेडकरनगर ब्यूरो -बांकेलाल निषाद

जनपद अंबेडकरनगर -के विधानसभा जलालपुर के सपा विधायक सुभाष राय द्वारा अभी कुछ दिन पहले जलालपुर प्रशासन के खिलाफ लॉक डाउन के बाद जबरदस्त धरना प्रदर्शन की धमकी दी गई थी और उस समय सपा प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य राजित राम यादव भी मौजूद थे विधायक के साथ उनका भी बड़ा बयान जलालपुर प्रशासन के खिलाफ था। जिसके बाद जलालपुर उप जिलाधिकारी महेंद्र पाल सिंह ,क्षेत्राधिकारी आरपी राय एवं जैतपुर थाना अध्यक्ष पीएन तिवारी सरैया ग्राम सभा का दौरा कर मामले का पटाक्षेप करने का प्रयास किए। लेकिन डीहभियांव और जल्दीपुर जैसे गंभीर मामलों में अभी तक जलालपुर प्रशासन नहीं पहुंचा। जल्दी पुर ग्राम सभा में विधायक का आरोप है कि वहां पर लाडली बेगम पत्नी मोहम्मद खुर्शीद ने चार-पांच दिनों तक आठ पिलर का निर्माण (लंबाई लगभग 8 फुट) किया था और जैसे ही करकट रखने की तैयारी में था तभी मोहम्मद रईस पुत्र समसुद्दीन 15-20 गुंडों के साथ बोलेरो से आठों पिलर गिरा कर उसी जमीन को अवैध कब्जा करने का प्रयास कर रहा है। जिसके संबंध में हल्का लेखपाल परशुराम गौड़ की मिलीभगत से आबादी की जमीन पर अनाधिकार रिपोर्ट रईस ने पैसा देकर अपने पक्ष में करा लिया जबकि लेखपाल को आबादी की जमीन पर रिपोर्ट लगाने का पावर नहीं है। और उसी जमीन को रईस धन बल के साथ कब्जा करना चाहता है जिस पर जलालपुर प्रशासन शाहे बेखबर हैं ।और पिलर गिराने का और दबंगई से कट्टा लहराते हुए दो बोलेरो से भरकर 15-20 लोग लॉक डाउन का उल्लंघन करते हुए दूसरे ग्राम सभा में घुसकर पिलर को गिराए लेकिन उनके खिलाफ अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं हुआ। दूसरा प्रकरण डीहभियांव ग्राम सभा का है जिसमें बेवा 80 वर्षीय उतराजी पत्नी स्वर्गीय रामसमुझ ने अपनी जमीन को अपनी शादीशुदा तीनों पुत्रियों को बैनामा कर दिया है और कुछ जमीन और अपना खुद का दो कमरे का मकान छोटे लाल पुत्र स्वारथ के नाम बैनामा कर दिया जिसमें उस बेवा की दो शादीशुदा लड़कियों को कोई आपत्ति नहीं है लेकिन सबसे छोटी लड़की हीरावती पत्नी फूलचंद जो 3 लड़के की मां है गोसाई पुर ग्राम सभा सम्मनपुर थाना अंतर्गत उसकी ससुराल है वहां से आकर दबंगई के बल पर बैनामा शुदा छोटेलाल के मकान में जबरदस्ती चार-पांच महीनों से रह रही हैं। छोटेलाल कई बार उसको जब निकलने के लिए कहते हैं तो उसे 376 मुकदमे की धमकी देकर उनको गाली गलौज देकर भगा देती है और 4 महीने से लगातार छोटे लाल का तहसील और थाना में चक्कर लगाते-लगाते चप्पल घिस गया है लेकिन जलालपुर प्रशासन के कान पर जूं तक नहीं रेंग रहा है और न ही विपक्षी गणों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर इन पीड़ितों को न्याय मिल रहा है। विधायक सुभाष राय ने बताया कि हम समाजवादी संघर्ष के आदी होते हैं हम न्याय के लिए कुछ भी करने के लिए तैयार रहेंगे।

Back to top button