Trending

सीएम ने अधिकारियों से कहा-प्रवासियों की सुरक्षित वापसी के लिए राज्यों से बढ़ाएं संवाद

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों से कहा है कि प्रदेश में सभी प्रवासी कामगारों/श्रमिकों के साथ सम्मानजनक व्यवहार किया जाए। उनकी प्रदेश में सकुशल वापसी और प्रदेश में रह रहे दूसरे राज्यों के कामगारों/श्रमिकों की संबंधित राज्य में सकुशल वापसी के लिए बेहतर संवाद को आगे बढ़ाया जाए।शुक्रवार को लोकभवन में आयोजित बैठक में योगी ने कहा कि सरकार सभी प्रवासी कामगारों की प्रदेश में सुरक्षित वापसी के लिए काम कर रही है। इसके लिए संबंधित राज्य सरकारों से ऐसे प्रवासियों की सूची प्राप्त करें। कोई भी अवैध रूप से प्रदेश में न आने पाए। लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन हो। हॉटस्पॉट क्षेत्रों में स्वास्थ्य, सेनिटाइजेशनव डोर स्टेप डिलिवरी टीमों के अलावा कोई अन्य न जाने पाए।

‘डीएम को उपलब्ध करवाएं सूची’
सीएम ने कहा कि विभिन्न राज्यों से वापस आ रहे श्रमिकों की जिलावार सूची संबंधित जिलाधिकारी को उपलब्ध करवाई जाए। यूपी में श्रमिकों को लेकर सर्वाधिक ट्रेनें पहुंचीं हैं। रेल यात्रा के पश्चात प्रवासियों को उनके जिले में पहुंचाने के लिए परिवहन निगम की बस का इस्तेमाल करें। बाहर से आने वालों
‘श्रमिकों के साथ करें सम्मानजनक व्यवहार’
के लिए संचालित क्वारंटीन सेंटर व आश्रय स्थल पर स्वच्छता व सुरक्षा के पर्याप्त प्रबन्ध हों। किसी भी दशा में अव्यवस्था न हो।

‘सुरक्षा के साथ शुरू करें इमरजेंसी सेवाएं’

योगी ने कहा कि सीएमओ कोरोना मरीजों का अध्ययन करते हुए रोगियों की केस हिस्ट्री तैयार करें। टेस्टिंग क्षमता में वृद्धि के लिए पूल टेस्टिंग प्रक्रिया को सतत जारी रखा जाए। संक्रमण से सुरक्षा के सभी उपाय अपनाते हुए अस्पतालों में इमरजेंसी सेवाओं का संचालन किया जाए। सभी जिला अस्पतालों में आवश्यक मेडिकल संसाधनों की नियमित उपलब्धता बनी रहे। क्षेत्रों का चयन कर अग्निशमन वाहनों से उन्हें नियमित सैनिटाइज करवाया जाए। बैठक में बताया गया कि प्रदेश में अब तक 48 हजार कोविड बेड की व्यवस्था की चुकी है।

 
 
Back to top button