परदेसी बाबू ने अंबेडकरनगर की बुझाई हरी बत्ती ,अरेंज जोन में तब्दील पूरे जिले का आला महकमा पहुंचा परदेसी बाबू के गांव

बांकेलाल निषाद

जनपद अंबेडकरनगर- के आलापुर तहसील अंतर्गत धनुकारा ग्राम सभा के दो परदेसी बाबू ने अंबेडकरनगर की हरी बत्ती को बुझा कर ऑरेंज बत्ती जलने के लिए मजबूर कर दिया। विनोद कुमार पुत्र जियालाल उम्र 27 वर्ष एवं सुभाष कुमार पुत्र महंगी राम उम्र 21 वर्ष, 6 दिन पहले दिल्ली के पंजाबी बाग से होते हुए अपने गांव धनुकारा घर ही पर होम क्वारेंटाइन थे । कम्युनिटी सैंपल चेकअप के बाद दोनों लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए । तत्काल जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया ।दोनों लोगों के साथ उनके परिवार समेत 18 लोगों को जिला अस्पताल क्वॉरेंटाइन कर दिया गया और इन दोनों कोरोना पॉजिटिव मरीज को सुल्तानपुर इलाज के लिए भेज दिया गया ।संक्रमित मजदूर ने बताया कि वह 1 मई को जिला अस्पताल थर्मल स्क्रीनिंग के लिए गया था जिसके बाद वह होम क्वॉरेंटाइन था ।इस प्रकार से उत्तर प्रदेश का 74 जिला अंबेडकरनगर भी संक्रमित हो गया ।जनपद के नोडल अधिकारी गिरिजेश त्यागी ,सीएमओ अशोक कुमार, उप जिला अधिकारी धीरेंद्र श्रीवास्तव ,क्षेत्राधिकारी जगदीश लाल टम्टा, आलापुर थाना अध्यक्ष बृजेश सिंह, जहांगीरगंज थाना अध्यक्ष नगेंद्र सरोज, आला महकमा वहां पहुंचा। जिला अधिकारी राकेश कुमार मिश्र के दिशा निर्देशानुसार अनुसार दोनों तरफ से एक-एक किलोमीटर बॉर्डर को सील कर दिया गया। नोडल अधिकारी गिरजेश त्यागी ने ग्राम प्रधान को फटकार लगाई और सभी संबंधित अधिकारी को अलर्ट रहने के निर्देश दिये। इन मरीजों के मिलने से ग्रामीण समेत पूरा क्षेत्र में दहशत में है ।यह दोनों लोग कितने- कितने लोगों के संपर्क में आए हैं ये तो यही लोग बता पाएंगे ।जांचोपरांत इसका आंकड़ा पता चल पाएगा। लेकिन वे दोनों संक्रमित कितनों को संक्रमित किए होंगे यह आंकड़ा बता पाना बहुत मुश्किल है। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के 75 जिले में से अंबेडकरनगर और चंदौली पूर्ण रूप से ग्रीन जोन में थे ।लेकिन अंबेडकरनगर में इन पॉजिटिव मरीजों की वजह से उत्तर प्रदेश का 74वां जिला भी संक्रमित हो गया। पूरे प्रदेश में 2200 से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव है । 42 लोगों की मौत हो चुकी है और प्रदेश के 61 जिले एक्टिव कोरोना पॉजिटिव है।

Back to top button