देवपुरी मंदिर के मुख्य द्वार पर लटक रहा ताला

विजेंद्र यादव

नैमिषारण्य सीतापुर

नैमिषारण्य में स्थित श्री स्वामी नारदानंद आश्रम में स्थित देवपुरी मंदिर के प्रबंधक द्वारा मंदिर में रहने वाले लोगों को अपने साधनों से आश्रम से बाहर निकलने पर पूर्ण रूप से रोक लगा दी है जिससे अन्दर रहने वालों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है । देवपुरी मंदिर में वाहन आने जाने के लिये प्रयुक्त होने वाले मुख्य दरवाजे पर ताला लगा रखा है जिसके चलते वहां के निवासियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है । ज्ञात हो कि प्रथम लॉकडाउन में नैमिष चौकी इंचार्ज रोहित दुबे ने देवपुरी में आकर अनावश्यक कार्य से बाहर निकलने पर रोक लगाई थी लेकिन देवपुरी मंदिर के प्रबंधक गोविंद शुक्ला 1 महीने से मंदिर के मुख्य द्वार पर ताला डाल रखा है जिससे कि स्थानीय बुजुर्गों को पैदल राशन लाने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है लेकिन बुजुर्गों की सुनने वाला कोई नहीं। देवपुरी मंदिर के प्रबंधक अपनी मर्जी से जिसको चाहते हैं उसकी गाड़ी देवपुरी मंदिर के कपाट खोलकर गाड़ी बाहर निकाल देते हैं लेकिन अगर उनकी मर्जी नहीं है तो गाड़ी बाहर नहीं निकालते हैं। देवपुरी मंदिर के प्रबंधक अपने अहंकार के आवेश में आकर यह तक कह दिया कि मैं किसी पत्रकार को नहीं मानता और अगर किसी को बाहर जाना है तो वहां नैमिष चौकी इंचार्ज के पास जाकर लिखित में एप्लीकेशन लेकर आए तो मैं उसे बाहर जाने दूंगा।सवाल यह है कि क्या पत्रकारों को भी देवपुरी मंदिर के बाहर जाने के लिए पास की आवश्यकता है ।

Back to top button