पुलिस कार्यालय तथा जनपद के सभी थानों पर मनाया गया आतंकवाद विरोधी दिवस

अहिबारन सिंह

एसएसपी एटा -ने पुलिस कार्यालय पर उपस्थित पुलिस कर्मियों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर दिलाई आतंकवाद और हिंसा का विरोध करने तथा शान्ति, सामाजिक, सद्भाव तथा सूझबूझ कायम करने की शपथ भारत भर में 21 मई को आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया जाता है। इसी दिन यानी 21 मई 1991 को देश के 7वें प्रधानमंत्री श्री राजीव गांधी की तमिलनाडु के श्रीपेरुंबुदूर में लिट्टे के एक मानव बम द्वारा हत्या कर दी गई थी। तभी से राजीव गांधी के सम्मान और उनको श्रद्धांजलि देने के लिए आज का दिन आतंकवाद विरोधी दिवस के तौर पर मनाया जाता हैं आतंकवाद विरोधी दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय हितों पर पड़ने वाले प्रतिकूल प्रभावों, आतंकवाद के कारण आम जनता को हो रही परेशानियों, आतंकी हिंसा से दूर रखना है। यह दिन देश के सभी वर्गों के लोगों के बीच आतंकवाद और हिंसा के प्रति जागरूकता फैलाने और उसका लोगों, समाज और देश पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में बताने के लिए मनाया जाता है इसी क्रम में आज दिनांक 21 मई 2020 को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा श्री सुनील कुमार सिंह द्वारा पुलिस कार्यालय एटा पर वैश्विक महामारी कोरोना के चलते सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया गया। आयोजन के दौरान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा द्वारा उपस्थित पुलिसकर्मियों को आतंकवाद और हिंसा का विरोध करने तथा शान्ति, सामाजिक, सद्भाव तथा सूझबूझ कायम करने की शपथग्रहण कराई गई उक्त मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक एटा श्री संजय कुमार, अपर पुलिस अधीक्षक अपराध एटा श्री राहुल कुमार, क्षेत्राधिकारी सदर श्री इरफान नासिर खान, क्षेत्राधिकारी सकीट श्री देव आनन्द, प्रतिसार निरीक्षक एटा श्री लक्ष्मण सिंह तथा अन्य पुलिस बल उपस्थित रहा।

*ब्यूरो चीफ अहिबरन सिंह एटा*

Back to top button