पूर्ण क्षमता के साथ खुलेंगे सभी राजकीय कार्याल सभी को मास्क पहनना, सैनेटाइजेशन व सोशल डिस्टेंस का पालन करना अनिवार्य

अहिबरन सिंह

कासगंज-वर्तमान में कोरोना कोविड-19 से बचाव एवं रोकथाम हेतु हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं। शासनादेश के अनुपालन में सभी राजकीय कार्यालय पूर्ण क्षमता के साथ खोले जाने हेतु समस्त कार्मिकांे/अधिकारियों की सुरक्षा के लिये जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाश सिंह ने जनपद के समस्त कार्यालयाध्यक्षों को निर्देश जारी किये हैं कि कार्यालय में सभी कार्मिकों के बैठने में कम से कम 02-03 मीटर की दूरी बनी रहे। सभी के पटल पर सैनेटाइजेशन की पर्याप्त व्यवस्था रहे। सभी कार्मिकों द्वारा मास्क का प्रयोग अनिवार्यरूप से किया जायेगा। कोई भी कार्मिक मास्क के बिना कार्यालय में प्रवेश न करे। समस्त कार्यालयों में बिना मास्क के किसी भी व्यक्ति का प्रवेश निषिद्व रहेगा।
कार्यालय में आने वाले व्यक्ति को पटल सहायक द्वारा कम से कम 02 मीटर की दूरी से सुनकर उसकी समस्या का समाधान किया जाये। प्रत्येक कार्यालय में स्प्रे मशीन रखी जाये, प्रतिदिन 03 बार सैनेटाइजेशन जरूर किया जाये। कार्यालय के कार्मिकों को आवश्यक रूप से अपने मुख्यालय पर ही निवासरत किया जाये। किसी भी दशा में प्रतिदिन सार्वजनिक परिवहन से आवागमन की अनुमति न दी जाये। किसी अधिकारी/कर्मचारी को मुख्यालय से बाहर जाने की अनुमति कदापि न दी जाये। समस्त कार्यालयों के मुख्य द्वार पर सभी व्यक्तियों के लिये पानी, साबुन/लिक्विड हैण्डवाश एवं हैण्ड सैनेटाइजेशन की व्यवस्था आवश्यक रूप से की जाये। उक्त निर्देशों का अक्षरशः कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाये। किसी भी निर्देश के उल्लंघन को गंभीरता से लेकर सम्बन्धित के विरूद्व कठोर कार्यवाही अमल में लाई जायेगी उ0प्र0 अनु0जाति वित्त एवं विकास निगम द्वारा योजनायें संचालित कासगंज: अनु0जाति के गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाले परिवारों के सामाजिक, शैक्षिक एवं आर्थिक उत्थान हेतु स्वतः रोजगार योजना, नगरीय क्षेत्र दुकान निर्माण योजना, लाॅण्ड्री एवं ड्राई क्लीनिंग
योजना, सिलाई/टेलरिंग शाप योजना के माध्यम से वित्तीय सहायता दी जाती हैं।
जिला प्रबन्धक उ0प्र0अनु0जाति वित्त एवं विकास निगम लि0/जिला समाज कल्याण अधिकारी शंकर लाल ने बताया कि स्वतः रोजगार योजना में 15 लाख रू0 लागत तक की परियोजनाओं में 10 हजार रू0 अनुदान, योजना लागत का 25 प्रतिशत मार्जिन मनी ऋण, 04 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर पर तथा शेष राशि बैंक ऋण के रूप में दी जाती है।
नगरीय क्षेत्र में दुकान निर्माण हेतु बैंक ऋण में 10 हजार रू0 अनुदान, शेष ब्याजमुक्त ऋण है। लाॅण्ड्री एवं ड्राई क्लीनिंग योजना की परियोजनाओं में 10 हजार रू0 अनुदान शेष ब्याजमुक्त ऋण है। सिलाई व टेलरिंग योजना में योजना की लागत 20 हजार रू0 है जिसमें 10 हजार रू0 अनुदान व 10 हजार रू0 बिना ब्याज का बैंक ऋण है। शहरी क्षेत्र के इच्छुक पात्र 15 जून 2020 तक विकास भवन स्थित कार्यालय में तथा ग्रामीण क्षेत्र के अभ्यर्थी सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारी कार्यालय में जमा कर सकते हैं। विस्तृत जानकारी जिला समाज कल्याण कार्यालय से प्राप्त की जा सकती है डीएम, एसपी ने दोनों कन्टेनमेंट जोन तथा रात में सोरों हरि की पैड़ी का किया निरीक्षण। मूवमेंट प्रतिबन्धित कर सतर्कता बरतने के दिये निर्देश कासगंज: वर्तमान में कोरोना कोविड-19 महामारी से बचाव और रोकथाम हेतु समस्त आवश्यक उपाय निरंतर जारी हैं। रविवार को जिले में दो व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पाॅजेटिव मिलने पर शाम को ही जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाश सिंह व पुलिस अधीक्षक सुशील घुले ने नये बनाये गये कन्टेनमेंट एरिया थाना गंजडुण्डवारा के ग्राम धवा एवं ग्राम शहबाजपुर पहुंच कर गहन निरीक्षण किया। ग्राम प्रधान, लेखपाल आदि से अन्य प्रांतों से आ रहे प्रवासी मजदूरों/व्यक्तियों तथा संक्रमतों के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी प्राप्त की। क्षेत्र को सील कर मूवमेंट प्रतिबन्धित कर दिया गया है। रात को ही जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने गंगा दशहरा के दृष्टिगत सोरों में हरि की पैड़ी का निरीक्षण किया तथा यहां किसी भी प्रकार की भीड़ न लगाने के निर्देश दिये।
यहां मुम्बई से आये दोनों प्रवासी संक्रमतों को जिला अस्पताल में आइसोलेट कर दिया गया है। दोनों संक्रमितों के संपर्क में आने वाले परिजनों को क्वारेंटाइन सेंटर भेजकर क्षेत्र को बैरीकेटिंग लगाकर सील कर दिया गया है। अब जिले में कोरोना पाॅजेटिव मरीजों की संख्या 20 हो गई है। जिनमें से 15 मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। वर्तमान में जिले में एक्टिव केसों की संख्या 5 है। क्षेत्र में निरंतर सैनेटाइजेशन कराया जा रहा है। क्षेत्र के सभी व्यक्तियों को कड़े निर्देश दिये कि अपने घरों पर ही रहें, बाहर न निकलें। मास्क जरूर पहनें, हैण्डवाश व सैनेटाइजर का इस्तेमाल करें। जिलाधिकारी ने कहा कि वर्तमान में विभिन्न प्रांतों एवं जनपदों से प्रवासी व्यक्ति ट्रेनों, बसों व अन्य वाहनों से जनपद में आ रहे हैं, जिससे यहां कोरोना संक्रमण फैलने की प्रबल संभावना बनी हुई है। जिसके दृष्टिगत जिले में अधिक सतर्कता बरतने की आवश्यकता है तथा बाहर से आये प्रत्येक व्यक्ति को होम क्वारेन्टाइन का पालन कराया जाना नितांत आवश्यक है विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत दिया जायेगा प्रशिक्षण।
कासगंज: शासन द्वारा संचालित विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत आच्छादित पारंपरिक कारीगरों एवं दस्तकारों जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लुहार, कुम्हार, हलवाई, मोची, राज मिस्त्रियों के आजीविका के साधनों को सुदृढ़ कर जीवन स्तर सुधारने हेतु उन्हें उद्यम के आधार पर कौशल वृद्वि हेतु 06 दिवसीय प्रशिक्षण देकर टूल किट वितरित किया जाना है उपायुक्त उद्योग प्रेमकांत ने बताया कि न्यूनतम 18 वर्ष आयु के इच्छुक व्यक्ति प्रशिक्षण हेतु 05 जून 2020 तक आॅनलाइन आवेदन डीआईयूपी एमएसएमई डाॅट यूपीएसडीसी डाॅट जीओवी डाॅट इन पर कर सकते हैं उद्योग, सेवा एवं व्यवसाय में इकाई स्थापना के लिये ऋण हेतु आवेदन करें ।
कासगंज: प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना में 25 लाख रू0 तक एवं एक जनपद एक उत्पाद योजना में 2 करोड़ रू0 तक का ऋण बैंकों के माध्यम से उद्योग, सेवा एवं व्यवसाय क्षेत्र में इकाई स्थापना हेतु प्राप्त करने के लिये 05 जून 2020 तक आॅनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
उपायुक्त उद्योग प्रेमकांत ने बताया कि जनपद के ऐसे बेरोजगार जो अपनी स्वयं की उद्यम, सेवा, व्यवसाय की इकाई स्थापित करना चाहते हैं, तो 05 जून 2020 तक पीएमईजीपी ईपोर्टल एवं डीआईयूपी एमएसएमई डाॅट यूपीएसडीसी डाॅट जीओवी डाॅट इन पर कर आॅनलाइन आवेदन कर सकते हैं। सरकार द्वारा निर्धारित मानकों के अनुरूप लाभार्थी को अनुदान दिया जायेगा।

*ब्यूरो अहिबरन सिंह कासगंज*

Back to top button