Trending

स्वास्थ कर्मी कर रहे है परिजनों पर सैनिटाइजेसन के नाम पर हानिकारक छिड़काव

एटा – हॉस्पिटल परिजन देखने आये थे उपचार के दौरान मरे व्यक्ति को distict hospital etah जनपद की तहसील जलेसर क्षेत्र के थाना सकरौली क्षेत्र के गांव सारसौल निवासी 50 वर्षीय महाराम सिंह की जिला अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गयी।वह तहसील जलेसर में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी था।युवक की मौत की खबर पर उसे देखने आयी महिलाओ पर वहां अन्य वस्तुओं पर डिसइन्फेक्टेंट का छिड़काव कर रहे स्वास्थ कर्मी द्धारा उन पर भी उक्त सलूशन का छिड़काव किया गया जो स्वास्थ के लिए हनुकारक भी हो सकता है कर्मचारी की मौत के बाद उसके परिजनों लो मृतक का शव सौंप देने और उसमे कोरोना संक्रमित के पूरी लक्षणों की सम्भावना जे चलते प्रशासन एक बार पुनः सक्रिय हुआ और मृतक के अंतिम संस्कार से पूर्व ही उसके सव को परिजनों से लाकर शव का पोस्टमार्टम कराया गया कोरेन्टीन सेंटर में हुई थी तबियत ख़राब मुख्य चिकित्सा अधिकारी अजय अग्रवाल ने बताया की 2 दिन पूर्व महाराम सिंह नामक युवक को एटा के आगरा रोड स्थित सेंट मैरी कोरेन्टाइन सेंटर में भर्ती किया गया था आज प्रातः उसको सांस लेने मैं काफी दिक्कत आने लगी तो उसे जिला चिकित्सालय भेजा गया जहां पर चिकित्सकों ने उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर वेंटिलेटर पर रखा किंतु उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।जिला चिकित्सालय में तैनात चिकित्सक डॉक्टर बी पी सिंह ने बताया कि आज प्रातः एक मरीज गंभीर हालत में जिला चिकित्सालय लाया गया उसे सांस लेने में काफी परेशानी हो रही थी उसे आइसोलेशन में भर्ती कर उसका उपचार किया गया जहां उसकी मौत हो गयी |रिपोर्ट आने तक उसे पॉजिटिव माना जाना भी गलत है फिलहाल मृतक के परिजनों के ऊपर निर्भर है कि वह उसका पोस्टमार्टम कर आते हैं या नहीं प्रशासन ने आगे कुछ बताने से इंकार कर दिया है।किंतु महाराम सिंह जिस स्ट्रेचर से लाया गया था वह जहाँ भी रूका था उन सभी स्थानों को भी सैनिटाइज किया गया है पोस्टमार्टम गृह पर आए परिजनों को भी स्वास्थ्य कर्मी ने हाइपोक्लोराइट(sodium hypochlorite) का स्प्रे कर किया सैनिटाइज युवक की मौत की सुचना पर पोस्टमार्टम गृह देखने पहुंचे रोने चिल्लाने बाले परिजनों पर वहां मौजूद स्वास्थ्य कर्मी ने स्प्रे कर सैनिटाइज किया जबकि सोडियम हाइपोक्लोराइट(sodium hypochlorite) का स्प्रे इंसानों पर करने का निर्देश कहीं से प्राप्त ना होने की जानकारी है ,किंतु इंसानों पर स्प्रे करने की जानकारी जब मुख्य चिकित्सा अधीक्षक राजेश अग्रवाल से की गई तो उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम के लिए आए तहसील कर्मी महाराम सिंह के शव को पोस्ट मार्टम के दौरान सैनिटाइज किए जाने की मुझे जानकारी है किन्तु उसके परिजनों को सैनिटाइज किया गया इसकी मुझे जानकारी नहीं है अगर स्वास्थ्य कर्मी ने स्प्रे किया भी होगा तो उनके कपड़ों पर किया होगा ना कि उन पर जबकि जिला चिकित्सालय में स्प्रे करते हुए स्वास्थ्य कर्मी का वीडियो स्पष्ट बता रहा है कि वे उनके कपड़ों पर नहीं सीधा उन पर ही स्प्रे कर रहा है उन्होंने बताया की हाइपोक्लोराइट(sodium hypochlorite) सलूशन काफी हल्का होता है उससे आइसोलेशन वार्ड बिल्डिंग बेडशीट बगैरा सभी स्थानों पर सैनिटाइज करते हैं अभी तक कोई नुकसान होने की जानकारी नहीं है इंसानों पर होने पर किसी नुकसान होने की अभी तक कोई रिपोर्ट नहीं आई है अगर बिल्डिंगों में कपड़ों पर स्प्रे किया जाता है तो वह सलूशन हम लोगों की सांस में भी जाता होगा अगर नुकसान करता है तो बिल्डिंग बेडशीट हो आज पर भी नहीं होना चाहिए मुझे सटीक जानकारी नहीं है यह नुकसान करता है या नहीं जानकारों के अनुसार हाइपोक्लोराइट(sodium hypochlorite) का इंसान पर असर किंतु जानकारों ने बताया की जिला चिकित्सालय में आइसोलेशन वार्ड तथा अन्य बिल्डिंगों पर यह जाना वाला हाइपोक्लोराइट(sodium hypochlorite) स्प्रे जादे परसेंट का है जिसे अगर किसी इंसान के ऊपर किया जाता है या वे उसकी सांस में जाता है तो यह काफी हानिकारक है | इससे इंसान को स्किन की समस्याओ के साथ सांस लेने में भी दिक्कतें आ सकती हैं सरकार द्वारा हाइपोक्लोराइट स्प्रे का छिड़काव गली मोहल्लों तथा घरों में सभी स्थानों पर किया जा रहा है यह इंसानों के लिए फायदेमंद है या हानिकारक की जानकारी जब गूगल पर सर्च की गई तो हाइपोक्लोराइट(sodium hypochlorite) से नाक में जलन, गले में खराश और खांसी होती है व त्वचा के संपर्क में आने से त्वचा में जलन होती है, लेकिन मजबूत सोडियम हाइपोक्लोराइट(sodium hypochlorite) घोल से दर्द, लालिमा, सूजन और छाले हो जाते हैं (अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें मृतक के ब्लड के सैंपल को अलीगढ़ मैडिकल कालेज में जांच हेतु भेजा गया है अभी जांच रिपोर्ट प्राप्त नहीं हुई है।इसलिए यह नहीं कहा जा सकता कि वह पॉजिटिव या नेगेटिव जांच रिपोर्ट आने पर ही उसके पॉजिटिव होने की पुष्टि हो सकेगी।

ब्यूरो अहिबरन सिंह एटा

Back to top button