जनपदीय पुलिस फैमिली वेलफेयर एसोसिएशन वामा सारथी की अध्यक्षा श्रीमती मीनाक्षी सिंह द्वारा पुलिस लाइन में किया गया वृक्षारोपण, महिला पुलिसकर्मियों एवं पुलिस परिवारों की महिला सदस्यों संग आयोजित की बैठक, बांटे मास्क

अहिबरन सिंह

एटा ~ वामा सारथी, उत्तर प्रदेश पुलिस वेलफेयर एसोसिएशन के तत्वाधान में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा श्री सुनील कुमार सिंह की धर्मपत्नी श्रीमती मीनाक्षी सिंह अध्यक्षा जनपदीय वामा सारथी पुलिस फैमिली वेलफेयर एसोसिएशन एटा द्वारा पुलिस लाइन्स एटा में आज दिनांक 05-06-2020 को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर क्षेत्राधिकारी सदर श्री इरफान नासिर खान की धर्मपत्नी के साथ पौधारोपण किया गया। महिला पुलिसकर्मियों तथा पुलिस परिवारों की महिला सदस्यों के साथ बैठक आयोजित कर महोदया द्वारा बताया गया कि विश्व पर्यावरण दिवस प्रत्येक वर्ष 5 जून को बेहतर भविष्य के लिए पर्यावरण को सुरक्षित, स्वस्थ और सुनिश्चित बनाने के लिए मनाया जाता है । इन्सान भूल चुका है कि पर्यावरण व इन्सान का गहरा सम्बन्ध हैं, प्रकृति के बिना मानव जीवन सम्भव नहीं है, मनुष्य अपने स्वार्थ के लिए पर्यावरण को हानि पहुँचाते रहते हैं । महोदया द्वारा लोगों के बीच में पर्यावरण के बारे में जागरुकता फैलाने के साथ ही पृथ्वी पर साफ और सुन्दर पर्यावरण के सन्दर्भ में सक्रिय गतिविधियों के लिए लोगों व अपने परिवारीजन को प्रोत्साहित और प्रेरित करने हेतु बताया गया.इस अवसर पर आयोजित की जाने वाली कार्यशाला में, पुलिस परिवार और पुलिस परिवार के बच्चों को निम्नलिखित बातों की ओर प्रेरित किया गया.01- प्रकृति के महत्व और उससे प्राप्त सुविधाओं के बारे में सूचित किया गया.02- हरियाली बढ़ाने के लिए, घरों के चारों ओर छोटे पौधों लगाए जाने चाहिए और लगे हुए पेड़ों और पौधों को उनके अस्तित्व को बनाए रखने के लिए प्रेरित किया गया 03- जन्मदिन, वर्षगांठ आदि पर अपने घर के आंगन में पौध लगाने के लिए प्रेरित किया गया 04- मेहमानों को घरेलू आयोजनों, समारोहों आदि में फूल देकर उनका स्वागत सम्मान करने के लिए प्रेरित किया गया, ताकि पेड़ों को बचाएं 05- अधिक से अधिक पौधे लगाकर पर्यावरण को संरक्षित किया जाना चाहिए‌ 06- अपने घर का निर्माण करते समय पेड़-पौधों के लिए थोड़ी जगह छोड़ने के लिए प्रेरित किया गया 07- हर घर में नम और सूखा कचरा रखने के लिए अलग-अलग डस्टबिन रखने के लिए प्रेरित किया गया 08- यदि चलते समय या जॉगिंग करते समय रास्ते में कहीं कूड़े दिखाई दे तो, उसे उठाकर कूड़ेदान में डालने के लिए कहा गया जल संरक्षण हेतु प्रेरित किया गया 01- ब्रश करते समय नल खुला न छोड़ें 02- स्नान करते समय शॉवर का उपयोग नियंत्रित तरीके से किया जाना चाहिए 03- सफाई वाहनों आदि में पानी की बर्बादी न करें घर के फर्श, आंगन आदि की सफाई में पानी का दुरुपयोग नहीं होना चाहिए 04- दाल-सब्जियों, चावल आदि को धोने के बाद, बचे हुए पानी को बर्तन में डाला जाना चाहिए, जो पौधों के लिए भी फायदेमंद होगा 05- यदि सार्वजनिक स्थान पर पानी के नल बह रहे हैं, तो उन्हें बंद कर दें 06- बर्तन धोते समय पानी का संयम से इस्तेमाल किया जाना चाहिए 07- कपड़ों की धुलाई में, पानी का कम से कम इस्तेमाल करना चाहिए 08- पानी की टंकी भरने के बाद अनावश्यक पानी न बहने दें 09- बर्तन, कपड़े आदि धोने के लिए जल शोधक से अप्रयुक्त पानी का उपयोग किया जा सकता है 10- वर्षा जल का उचित उपयोग किया जाना चाहिए कार्यालय हो या घर का उपयोग बिजली के रूप में आवश्यक 01- कमरे से बाहर निकलते समय बिजली के उपकरण जैसे:- लाइट, पंखे आदि को बंद कर दें 02- ए0सी0, टी0वी0 आदि का दुरुपयोग न हो 03- घर में चलने वाले बिजली के उपकरणों को खरीदते समय बिजली बचाने और पर्यावरण की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाना चाहिए 04- पुलिस लाइन्स/कार्यालय आदि परिसर में सार्वजनिक स्थानों पर स्थापित लाइटों का उपयोग आवश्यकतानुसार किया जाना चाहिए 05- बिजली की बचत को ध्यान में रखते हुए, विद्युत उपकरणों की सर्विसिंग नियमित रूप से की जानी चाहिए 01- पेट्रोलियम उत्पाद सीमित हैं इसलिए, उन्हें बचाने के लिए हर संभव प्रयास किया जाना चाहिए 02- सामान्य रूप से सार्वजनिक परिवहन का उपयोग करें 03- यदि आपको लंबे समय तक ट्रैफ़िक सिग्नल पर रहना है, तो अपने वाहन के इंजन को बंद कर दें 01- खाद्यान्न का दुरुपयोग न करें, साथ ही जरूरतमंदों और पशुओं आदि के लिए बचे हुए भोजन का उपयोग करें 02- पॉलीथीन का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए, घरेलू सामान और सब्जी आदि लाने के लिए कपड़े के थैले/बैग का उपयोग किया जाना चाहिए 03- मल- मूत्र को सार्वजनिक स्थान पर नहीं विसर्जित किया जाना चाहिए 04- सार्वजनिक स्थानों पर थूकें नहीं, किसी भी प्रकार का प्रदूषण न करें।

Back to top button