थानगांव में स्थित महापुरुष बाबा का 100 साल पुराना मंदिर बना आस्था का केंद्र ।

सर्वोश राजपूत

{थानगांव सीतापुर }

थानगांव में स्थित महापुरुष बाबा का मंदिर आस्था का केंद्र बना हुआ है यह मंदिर करीब 100 वर्ष पुराना है यहां सभी धर्मो के लोगो के आस्था का केंद्र बना हुआ है यहां कथा भागवत रामचरितमानस आदि जैसे धार्मिक कार्य हुआ करते हैं । जिससे सैकड़ों श्रद्धालुओं का आवागमन बना रहता है। यहां हर वर्ष के तीन बड़े मेला एतिहासिक बन गए हैं। बैशाख. ज्येष्ठ असाढ़ की पूर्णिमा को यहां मेला मे सुरक्षा बल आदि जैसी अनेक सुविधा की जाती है । दान से सभी प्रकार के कष्ट दूर हो जाते हैं । यहां के पुजारी राजेश दीक्षित ने इस चौपाई के साथ एक अति महत्वपूर्ण जानकारी दिए है कहा जाता है कि उन्नाव जिले के एक बहुत ही धनवान सेठ अपनी साथी के 15 साल बाद तक निः सन्तान रहे तमाम नीम हकीमो का इलाज करते करते परेशान हो गए हैं जो सन 2008 में सोमवार के दिन मंदिर आकर महापुरुष बाबा के चरणों में पढ़कर प्रार्थना की एवं मन्नत मे श्री रामचरितमानस का पाठ सुनने को कहा। जिस व्यक्ति के घर सन 2011 में सोमवार को सुंदर स्वस्थ पुत्र ने जन्म लिया और परिवार के लोग अपने कुलदीप को देख प्रसन्न हुए। यह जानकारी स्थान के पुजारी राजेश दीक्षित ने उपलब्ध कराई है । इसी तरीके से सैकड़ों श्रद्धालुओं की मन्नते पूरी होती हैं इस मंदिर में सैकड़ों की संख्या में लोगों का आवागमन बना रहता है

Back to top button