फरियाद लेकर कलक्ट्रेट पहुंची निराश्रित वृद्ध महिला की डीएम ने सुनी पुकार

वृद्ध महिला को डीएम ने कच्चे राशन की किट, आर्थिक सहायता देकर भेजा घर

एटा। शहर के चैंचा वनगांव की रहने वाली निराश्रित वृद्ध महिला श्रीमती भगवान देवी ने अपरान्ह में कलक्ट्रेट पहुंचकर डीएम सुखलाल भारती ने मदद की गुहार लगाई। महिला से डीएम से कहा कि उसके पास खाने को कुछ नहीं हैं, आर्थिक स्थिति भी दयनीय है। डीएम सुखलाल भारती ने वृद्ध महिला से वार्ता की उसकी हर संभव मदद के निर्देश दिए। डीएम ने इतना ही नहीं वृद्ध महिला की मंाग पर उसे कच्चे राशन की किट मंगाकर उपलब्ध कराई तो वहीं अधिकारियों के सहयोग से उसे पांच हजार रूपये की आर्थिक सहायता भी दी। डीएम ने वृद्ध महिला को उसके घर भेजकर आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराये जाने हेतु मौजूद अधिकारियों को निर्देश दिए डीएम ने वृद्ध महिला के साथ आए अन्य व्यक्ति को निर्देश दिए कि वृद्ध महिला का ख्याल रखें, यदि कोई समस्या आए तो संज्ञान में लाएं। जनपद में वृद्धजनों की जिला प्रशासन द्वारा हर रूप में मदद की जाएगी। लाॅकडाउन की अवधि मे राशन पानी भी गरीबों को शासन की मंशानुरूप उपलब्ध कराया जा रहा है। डीएम ने महिला से कहा कि कोरोना वायरस का संक्रमण अभी काफी प्रभावी है, घर में रहकर ही कोरोना से बचा जा सकता है डीएम ने मौजूद अधिकारियों को भी निर्देशित किया जिलेभर में निराश्रित वृद्धजनों की देखभाल, स्वास्थ्य, खानपान पर प्रमुखता से जोर दिया जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में वृद्धजनों को जानकारी दी जाए कि वे कोरोना से बचाव हेतु मास्क का नियमित प्रयोग करें, घर में रहें सुरक्षित रहें तथा एक दूसरे से एक मीटर की सामाजिक दूरी का भी पालन करें।

Back to top button