रपटा पुल पर पूर्व विधायक द्वारा कब्जेदारी को लेकर दिखाई थी नाराजगी , वही अतिक्रमण हटाया गया ।

सर्वोश राजपूत

{थानगांव सीतापुर ) पूर्व विधायक रामपाल यादव के द्वारा सरकारी भूमि व रपटा,नाला पर कब्जा कर किये गए अतिक्रमण को प्रशासन ने एक बार फिर ध्वस्त कर दिया गया। मालूम हो रेउसा में चहलारी रोड पर रामपाल यादव के द्वारा रपटा,नाला,पुलिया आदि जमीन gb पर दो स्थानों पर कब्जा कर लिया गया था, जिसमें 20 गाँवो के डूबने का गंभीर संकट उत्पन्न हो गया था, इसकी जानकारी मिलते ही दो दिन सेवता गुरुवार कोविधायक ज्ञान तिवारी मौके पर पहुंच कर कड़ी नाराजगी जताई थी मौके पर उपजिलाधिकारी को बुलाकर अतिक्रमण हटवाने को कहा था, साथ ही डीएम से बात कर इस प्रकरण में त्वरित कारवाई करने की बात कही थी,यही नही यह सब हो गया और जिम्मेदार सोते रहे इसको लेकर जवाबदेही तय कर कार्रवाई की बात भी कही थी। शनिवार को sdm, co,pwd व कई थानों की पुलिश के साथ 2 जेसीबी लेकर आये और अतिक्रमण को गिराया इसके नुकसान की भरपाई व और नियमानुसार कारवाई की बात sdm ने कही। मालूम हो इससे पहले भी सीतापुर नगर में रामपाल यादव के स्पर्श होटल को गिराया जा चुका है लेकिन यह नेता जी जमीनों पर कब्जा,निर्माण करने से बाज नही आ रहे है अब नेताजी ने अपना नया ठीकाना कब्जा करने का गाजर में बनाया है जहाँ उनको सिर मुड़ाते ही ओले पड़े।
बॉक्स
रेउसा में भी ग्राम समाज की जमीन पर लॉकडाउन के दौरान पूरी बाजार बना ली गई, विधायक व जिलाधिकारी ने मौका निरीक्षण कर नए सिरे से सर्वे टीम लगाकर नाप के निर्देश दिए है अब सोमवार को इस जमीन की नाप होगी जिसके बाद यह दुकाने भी गिरेंगी।

Back to top button