25,000 इनामिया बदमाश के साथ जलालपुर पुलिस की मुठभेड़ बदमाश और पुलिस घायल

पुलिस जवान सुनील निषाद के पैर में लगी गोली , घायल

बांकेलाल निषाद

 

जनपद अंबेडकर नगर -के कोतवाली जलालपुर के इंस्पेक्टर मनीष कुमार सिंह अपनी पुलिस टीम के साथ लगभग 9:30 बजे रात्रि को बसखारी रोड पर नंदापुर विद्यालय के पास चेकिंग अभियान के तहत चेकिंग कर रहे थे। इतने में मोटरसाइकिल पर सवार दो लोगों को इस्पेक्टर द्वारा रोका गया । जैसे ही इंस्पेक्टर और पुलिस टीम उन दोनों लोगों को चेकिंग करने का प्रयास किया तैसे ही पुलिस वालों पर बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी । जलालपुर की सेकंड मोबाइल एसआई धर्मेंद्र सिंह और आरक्षी पुलिस जवान सुनील कुमार निषाद और जलालपुर पुलिस टीम के साथ मुठभेड़ हुआ जिसमें आरक्षी सेकंड मोबाइल का पुलिस जवान सुनील कुमार निषाद के पैर में बदमाशों ने गोली मारी और आत्मरक्षा हेतु पुलिस को भी गोली चलाने के लिए बाध्य होना पड़ा । फलस्वरूप बदमाश को भी गोली लगी और बदमाश घायल हो गया। उसको जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया । बदमाश की पहचान मोहम्मद अहमद पुत्र तौफीक निवासी खरिया गांव थाना निजामाबाद जनपद आजमगढ़ के रूप में पहचान की गयी है । उसके पास से 315 बोर कट्टा, जिंदा कारतूस और मोटरसाइकिल भी बरामद हुआ है। अंधेरे का लाभ उठाकर मोहम्मद अहमद का दूसरा साथी फरार हो गया । मोहम्मद अहमद कोतवाली अकबरपुर में भी वांछित था और आजमगढ़ में इस पर 25000 का इनाम घोषित हुआ था और अंततः जनपद अंबेडकर नगर के पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी और अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र के दिशा निर्देशन पर आखिरकार इंस्पेक्टर जलालपुर मनीष कुमार सिंह ने सराहनीय कार्य करते हुए अपनी जान को जोखिम में डालकर इस बदमाश को धर दबोचा । गौरतलब है कि जनपद में बाहरी जिलों के बदमाश काफी सक्रिय हो चुके हैं जिसके खात्मे के लिए पुलिस अधीक्षक और अपर पुलिस अधीक्षक पूरे एक मिशन के तहत एक विशेष अभियान चलाए हुए हैं और इसमें उनको काफी सफलता भी प्राप्त हो रही है।

Back to top button