हिस्ट्रीशीटर दुर्गेश के चार सहयोगी जालसाज गिरफ्तार हत्या के बाद खुला भेद,तब सक्रिय हुई पुलिस

ए अहमद सौदागर
लखनऊ। फर्जी दस्तावेज बनाकर लोगों को सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ कर पीजीआई पुलिस ने गुरुवार को चार जालसाजों को गिरफ्तार किया। यह ठग कोई और नहीं बल्कि बुधवार को बदमाशों द्वारा मारे गए हिस्ट्रीशीटर दुर्गेश यादव के सदस्य हैं।
पुलिस इनकी निशानदेही पर भारी मात्रा में फर्जी मार्कशीट सहित अन्य दस्तावेज बरामद हुए हैं।
बताते चलें कि बुधवार को दिनदहाड़े गोरखपुर जिले के उरुवा निवासी हिस्ट्रीशीटर दुर्गेश यादव की बदमाशों ने हत्या कर दी।
मौके पर पहुंची पुलिस घटनास्थल का मुआयना किया तो पता चला कि जिस हिस्ट्रीशीटर दुर्गेश यादव को मारा गया वह हिस्ट्रीशीटर के साथ-साथ शातिर किस्म का जालसाज भी था।
जांच-पड़ताल के बाद डीसीपी पूर्वी के निर्देश पर इंस्पेक्टर पीजीआई कण्व मिश्र की टीम ने गुरुवार को फफादू जनपद एटा निवासी मानवेन्द्र, उपरोक्त निवासी सोवेनद्र कुमार, गोरखपुर जिले के गोलाघाट निवासी संजीत कुमार व तिलौरा सहजनवा गोरखपुर निवासी अभय कुमार को गिरफ्तार किया है।
खास बात यह है कि यह गिरोह हिस्ट्रीशीटर दुर्गेश यादव के सदस्य हैं।
पुलिस की मानें तो पकड़े गए आरोपी शातिर किस्म के अपराधी है।

Back to top button