कोतवाली आलापुर के नाक के नीचे भू माफिया द्वारा मकान कब्जाने का प्रयास पीड़िता ने लगाई एसपी से न्याय की गुहार

अंबेडकरनगर ब्यूरो बांकेलाल निषाद

 

जनपद अंबेडकर नगर- कोतवाली आलापुर की नाक के नीचे यूनियन बैंक के सामने दो तला रिहायशी मकान को भू माफिया राहुल उपाध्याय द्वारा लगातार दो महीनों से कब्जा करने का प्रयास चल रहा है लेकिन आलापुर पुलिस प्रशासन के कान पर जूं तक नहीं रेंग रहा है । कभी भूमाफिया द्वारा इस मकान पर ताला लगाया जाता है कभी पीड़िता द्वारा ताला को काटा जाता है फिर भी भूमाफिया द्वारा ताला लगा दिया जाता है । पीड़िता अंदर अपने परिवार के साथ रह रही हैं और भूमाफिया उस पर बाहर से ताला लगाए हुए हैं । बराबर पीड़िता व उसके परिवार को जान से मारने की धमकी मिल रही है लेकिन आलापुर पुलिस प्रशासन अभी तक मौन है । 1995 से पीड़िता मीना निषाद पत्नी परदेसी निषाद निवासी महेशपुर मंडप द्वारा बैनामासुदा अपने मकान में रह रही है और उसको एक तला से दो तला बनवाया लेकिन भूमाफिया राहुल उपाध्याय पुत्र बाल गोविंद निवासी रामनगर महुवर एसबीआई के बैंक मैनेजर से व पीड़िता के देवरानी से मिलकर फर्जीवाड़ा करके उस रिहायासी मकान में ताला लगा दिया । जबकि पीड़िता व उसके परिवार उस मकान के अंदर रह रहे हैं । पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में बैंक मैनेजर से जब पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि पीड़िता के नाम से किसी महिला को खड़ा करके राहुल उपाध्याय ने उसके बैंक खाते में दो दो लाख का सात चेक अर्थात 14 लाख रुपये डाला और पुनः राहुल उपाध्याय के खाते में ₹1400000 वापस चला गया और उसी को दिखा कर राहुल उपाध्याय बताता है कि मैंने उस जमीन को खरीदा है जबकि पीड़िता का कहना है कि मैं 6 महीने से बैंक कभी गई ही नहीं ना मेरे खाते में कोई पैसा आया है और ना मैंने अपने मकान को किसी को बेचा है । जब पुलिस प्रशासन को यह फर्जीवाड़ा पता चला तो उसने पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी को भू माफिया के खिलाफ एफआईआर के लिए लिखित शिकायत की । पीड़िता मीना निषाद कहती है कि मुझे बराबर जान से मारने की राहुल उपाध्याय व उसके साथी धमकी दे रहे हैं मेरे मकान को जबरदस्ती कब्जा करने का प्रयास कर रहे हैं राहुल उपाध्याय व उसके साथी दिन और रात बराबर मेरे मकान पर कभी लाइट मारते हैं कभी इशारा करते हैं कि हम मकान को कब्जा करके ही दम लेंगे । आखिर योगीराज में यह क्या हो रहा है? भू माफिया सरेआम घूम रहे हैं किसी का मकान कब्जा कर रहे हैं लेकिन उन पर किसी प्रकार की कोई नकेल नहीं कसी जा रही है । उन्हें न्याय व कानून का भय नहीं रह गया है । योगीराज लाख दावा करे कि प्रदेश को भ्रष्टाचार मुक्त बना दिया गया है गुंडागर्दी से मुक्त कर दिया गया है लेकिन यहां आलापुर कोतवाली के नाक के नीचे दो तले मकान पर भूमाफिया द्वारा सरेआम कब्जा करने का प्रयास चल रहा है लेकिन पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है । इस भूमाफिया के खिलाफ कोई कार्रवाई अभी तक आलापुर पुलिस क्यों नहीं कर रही है ?कब मिलेगा उसके परिवार को न्याय? कब भयमुक्त होंगे पीड़िता के परिवार? पीड़िता का कहना है कि यदि हमारी सुनवाई नहीं हुई तो हम आमरण अनशन करेंगीं।

Back to top button