निर्भया के दोशियों के फांसी की सजा पर सस्पपेंस कोर्ट ने तिहाड़ जेल को भेजा नोटिस

दिल्ली की एक अदालत ने तिहाड़ जेल से चारो दोसियो की सजा पर मांगा जवाब फासी पर सस्पेंस बढ़ा

नई दिल्ली
                        निर्भया गैंगरेप और मर्डर केस में मौत की सजा पाए चारों दोषियों की फांसी पर सस्केपेंस बना हुआ है | फासी 1 फरवरी को होना  है। हालांकि, इस बार भी उन्हें फांसी होगी या नहीं, इस पर सस्पेंस बना हुआ है। एक दोषी विनय ने निचली अदालत का रुख किया और फांसी को इस आधार पर अनिश्चितकाल के लिए टालने की मांग की है कि कुछ दोषी अपने पास मौजूद सभी कानूनी विकल्पों का इस्तेमाल नहीं कर पाए हैं। इस पर कोर्ट ने तिहाड़ जेल प्रशासन से शुक्रवार तक जवाब देने को कहा है। इस बीच निर्भया के दोषियों को फांसी पर लटकाने के लिए मेरठ जेल से पवन जल्लाद गुरुवार को तिहाड़ जेल पहुंच चुके हैं।

  विशेष न्यायाधीश ए. के. जैन ने तिहाड़ जेल के अधीक्षक को शुक्रवार को सुबह 10 बजे तक इस याचिका पर जवाब दाखिल करने को कहा। की फांसी की सजा का सामना कर रहे दोषी विनय कुमार शर्मा की ओर से पेश वकील ए. पी. सिंह ने अदालत से फांसी को अनिश्चितकाल के लिए टाल देने को कहा क्योंकि कुछ दोषियों के कानूनी उपचार अभी बाकी हैं। अभियोजन पक्ष ने कहा कि याचिका न्याय का मजाक है और यह फांसी को टालने की महज एक तरकीब है। गुनाह गारो को लगातार कोशिस की जा रही है |और कोर्ट को भी बार बार अपना निर्णय बदलना पड़ रहा है |

Back to top button