बाराबंकी में ग्राम प्रधान मालामाल गाँव वालो का हुआ बुरा हाल

सरपंच खाए मलाई गाँव वालो की न हुई भलाई

बाराबंकी – उत्तर प्रदेश सरकार जहाँ एक तरफ विकास दर विकास की बात करती है और ग्राम पंचायतो के विकास के लिए ग्राम प्रधानो के खाते में लाखो रूपये भी देती है उसके बाद भी ग्राम पंचायत के हालात सुधरने के नाम नहीं ले रहे है | मामला बाराबंकी जनपद के सिधौर ब्लॉक की ग्राम पंचायत पडरावा का है जहा ग्राम पंचायत में किसी भी प्रकार की सुबिधा तो दूर बल्कि वहा लोगो को निकलने का रास्ता तक भी नहीं है लोग कीचड़ से गुजरकर जाते है | और गाँव के छोटे बच्चे स्कूल जाते समय इसी कीचड़ से गुजर कर जाते तो कभी इस कीचड़ में गिर जाते है यही नहीं गाँव में बने शौचालय हो या नल लगा हो अगर शौचालय बने है तो ओ भी मानक के विपरीत ही बने है |अगर नल लगे है तो केवल नाम है | नल तो केवल दिखावा है अगर कोई प्यासा आदमी पानी पीने नल के पास जाए तो सायद प्यासा ही मर जाए | लेकिन उसको पानी नसीब नहीं होगा | तो वही गाँव में बने प्राथमिक स्कूल के प्रधानाध्यापक का ग्रामप्रधान के ऊपर आरोप है की स्कूल में कायाकल्प द्वारा आया पैसा कहा गया ओ भी नहीं पता सब प्रधान ही खा गए | और स्कूल में और गाँव सफाई कर्मी देखने तक भी नहीं आते है |  

रिपोर्टर बृजेश कुमार   

Back to top button