राष्ट्रीय लोकदल के महासचिव ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

जनपद सीतापुर -में स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनने वाले शौचालय निर्माण में बहुत घोटाला किया गया है यह सब जनपद के बैठे जिला पंचायत राज अधिकारी के संरक्षण में ग्राम पंचायत अधिकारी द्वारा किया गया है इसी कारण से जांच के बाद सिद्ध हो जाने के बाद भी घोटाले की धनराशि की वापसी नहीं हो पाती है और घोटाला करने वाले कर्मचारी पर किसी प्रकार का कोई भी डर नही है जिससे शौचालय निर्माण में नये नये घोटाला के मामले प्रकाश में आते रहते है जिसमें शौचालय निर्माण के नाम पर धनराशि का बंदरबांट किया गया है जिसमें प्रमुख विकास खंड कसमंडा
गांव इस तरह है ग्राम पंचायत जुडौडा ग्राम पंचायत सीतारसोई वह छरासी वह उसरी व कोकनामाऊ वह ललवा ग्राम पंचायतहै यहां पर राज्य वित्त के साथ चौदहवें वित्त वा शौचालय निर्माण में जमकर लूट करके धनराशि का बंदरबांट किया गया है ग्रामपंचायत अधिकारी दिनेश कुमार वर्मा द्वारा बंदरबांट किया गया है और परसेंडी ब्लॉक की कुछ ग्राम पंचायतें हैं जिनमें राज वित्त का पैसा ग्राम प्रधान पंचायत सेक्रेट्री पुष्पेंद्र वर्मा जी की बदौलत किया जा रहा है बंदरबांट और आला अधिकारी से लगाकर नीचे तक कोई पुष्पेंद्र वर्मा पर कार्रवाई करने को तैयार नहीं ब्लॉक परसेंडी के जरेली ग्राम पंचायत शौचालय घोटाला राजनीति घोटाला इसी ब्लॉक में गोरिया कला शौचालय घोटाला स्टील लाइट घोटाला आवास घोटाला परसेंडी की द लावल सादिकपुर मैं शौचालय घोटाला इन ग्राम पंचायतों पर कार्रवाई क्यों नहीं
2 समाज कल्याण अधिकारी के यहां तैनात प्रशाशनिक अधिकारी शिवकुमार बाबू द्धारा वृद्ध गरीब महिलाओं वह बुजुर्ग महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार किया जाता है जबकि उर्दू दराज से आती हैं अपनी पेंशन के लिए पूछने के बाबत ही बात करती हूं लेकिन शिवकुमार बाबू द्वारा उन महिलाओं को उनकी पेंशन के बाबत बात ना करके अभद्र व्यवहार किया जाता है बहुत से गरीब वह व्रत महिलाओं व बुजुर्गों के फार्म ऑनलाइन कराने के बावजूद भी काफी समय तक पेंशन नहीं मिल पा रही है यही हाल परिवारिक लाभ योजना का है जो व्यक्ति शिवकुमार बाबू से मिलकर अपना काम कराता है उसे ही परिवारिक लाभ मिल पाता है और फार्म कैंसिल कर दिए जाते हैं यह हाल समाज कल्याण अधिकारी के यहां तैनात प्रशासनिक अधिकारी शिवकुमार बाबू का है शिवकुमार बाबू द्वारा पूर्व में भी कई घोटाले किए गए थे जिसमें उनका स्थानांतरण हरदोई कर दिया गया था लेकिन पुनः वापसी करने के उपरांत फिर वही भ्रष्टाचार का कार्य करना आरंभ कर दिया है इसकी जांच जिला प्रशासन की किसी एजेंसी से कराई जाए और वृद्ध गरीब महिलाओं को तुरंत पेंशन दिलाया जाए
अतः जिला प्रशासन से राष्ट्रीय लोक दल द्वारा विभिन्न ग्राम पंचायतों के जांच कराने व पात्र लोगों को तुरंत शौचालय दिलाने की मांग करता है अगर जिला प्रशासन द्वारा यथा शीघ्र पात्र लोगों को शौचालय न दिया गया और विभिन्न ग्राम पंचायतों की जांच ना कराई गई तो राष्ट्रीय लोक दल इसके लिए विशाल धरना पात्र वृद्ध वह बुजुर्ग महिलाओं के साथ करेगी जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी
रिपोर्टर पुनीत यादव

Back to top button