भक्तों का पुरुषार्थ एवं सद्गुरू कृपा से होती है मुक्ति आचार्य शांतनु जी महाराज

जनपद अंबेडकरनगर -के संज्ञान ग्लोबल अकादमी कन्नूपुर जलालपुर अंबेडकर नगर में प्रबंधक हर्षवर्धन सिंह द्वारा आयोजित सात दिवसीय श्री राम कथा के आयोजन में पूज्य श्री शांतनु जी महाराज द्वारा बताया गया कि साधक की मुक्ति में उसका पुरुषार्थ और सद्गुरु कृपा ही महत्वपूर्ण होती है। उन्होंने केवट प्रसंग में केवट के सहज भोले-भाले सीधे-साधे भगवान के प्रति पूर्व समर्पण की विशद वर्णन कर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया ।उन्होंने बताया कि भगवान की प्राप्ति में केवट की ही तरह सहज सीधे -साधे भोले- भाले निष्कपट भाव से भगवान के प्रति लग्न की आवश्यकता है। उन्होंने जटायु -प्रसंग के माध्यम से बताया कि जटायु माता सीता को बचाने के लिए अपने आप को बलि चढ़ाकर अपने जीवन को उद्धार कर लिया ।उन्होंने प्रधानमंत्री सुमंत और भगवान राम के वन गमन के समय की भी विशद विवेचना किया । श्री महाराज जी ने कथा वाचन के समय बीच-बीच में प्रसंग संबंधित भजन को भी बड़े ही मधुरता से श्रद्धालुओं और भक्तों को सुनाएं । भगवान श्री राम कथा के माध्यम से श्री महाराज जी ने श्रोताओं को बताएं कि भाई -भाई के प्रेम, देवर- भाभी के बीच प्रेम, पिता-पुत्र के प्रति प्रेम की आदर्श पराकाष्ठा को भगवान राम से अनुकरण करते हुए सभी को इस प्रेम पूरित आदर्श संबंधों को बनाए रखना चाहिए। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के प्रदेश महामंत्री एवं प्रबंधक संज्ञान ग्लोबल अकादमी के हर्षवर्धन सिंह युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष सुभाष यादव, उप जिलाधिकारी धीरेंद्र श्रीवास्तव, क्षेत्राधिकारी आरपी राय ,सीडीपीओ बलराम सिंह, स्वास्थ शिक्षा अधिकारी अनिल त्रिपाठी ,आसपास के हजारों की संख्या में श्रद्धालु एवं संज्ञान ग्लोबल अकादमी के प्रधानाचार्य समेत समस्त स्टाफ एवं छात्र उपस्थित रहे। सात दिवसीय श्रीराम कथा वाचन कार्यक्रम का भंडारा 7 फरवरी को भंडारे का आयोजन है।

अंबेडकरनगर ब्यूरो- बांकेलाल निषाद

Back to top button