Trending

डोर टू डोर जाएं संचारी रोग नियंत्रण अभियानकर्मी- डीएम

बांकेलाल निषाद

जनपद अंबेडकरनगर -के तेजतर्रार जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र की अध्यक्षता में संचारी रोग नियंत्रण अभियान के अंतर्गत जिला समन्वय समिति की बैठक संपन्न हुआ। जिसमें जिलाधिकारी ने बताया कि इन अभियान से संबंधित कर्मी डोर टू डोर जाकर सरकार की योजनाओं को लोगों तक पहुंचाएं। जिलाधिकारी ने बैठक के दौरान उपस्थित एमवाईसी के लोगों एवं डॉक्टरों को निर्देश देते हुए कहा कि शासन जनहितकारी योजनाओं को जनता के बीच लाने का निरंतर कार्य कर रही है। इसी के तहत संचारी रोग के रोकथाम के लिए शासन द्वारा चलाए जा रहे 1 मार्च से 15 मार्च तक संचारी रोग पखवाड़े मनाया जाना प्रस्तावित किया गया है। उन्होंने अपने संबोधन के दौरान उपस्थित समस्त डॉक्टरों को निर्देश देते हुए कहा कि योजना को धरातल पर लाने में अपनी पूर्ण भूमिका का निर्वहन करें। उन्होंने कहा संचारी रोग फाइलेरिया जापानी इंसेफेलाइटिस एवं रोकथाम हेतु ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में माइक्रो प्लान बनाते हुए नालियों, तालाबों के आसपास दवा का छिड़काव एवं टीकाकरण कराना सुनिश्चित करें साथ ही साथ उन्होंने निर्देश दिया कि समस्त कार्य को संपादित कराते हुए प्रतिदिन का एक्शन टेकन रिपोर्ट फोटोग्राफ्स के साथ संबंधित अधिकारियों को प्रेषित करना सुनिश्चित करें। समस्त कार्यों की जिम्मेदारी ग्रामीण क्षेत्रों में डीपीआरओ एवं शहरी क्षेत्रों में संबंधित समस्त नगर पालिकाके ईओ को दिया गया है ।उन्होंने कहा जहां पर जलभराव है एवं साफ सफाई की समुचित बंदोबस्त नहीं किया गया है वहां पर तत्काल सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए और साथ ही साथ ब्लीचिंग पाउडर का भी छिड़काव करने का निर्देश देते हुए कहा कि सभी क्षेत्रों में फागिंग मशीन के द्वारा कराना सुनिश्चित करें। शासन द्वारा पूरे जनपद में डोर टू डोर आशा एवं एएनएम के द्वारा फाइलेरिया का दवा खिलाए जाने का प्रावधान किया गया है।यह भी निर्देश दिया गया कि सभी अस्पतालों एवं कार्यालयों में भी फाइलेरिया का दवा खिलाया जाना प्रस्तावित है ।इसी क्रम में आज कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी के साथ-साथ समस्त उपस्थित अधिकारियों को फाइलेरिया का दवा खिलाया गया। जिलाधिकारी ने कहा संचारी रोग नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए सभी अधिकारी अपने कार्य को प्राथमिकता से लेते हुए इस योजना के बारे में विस्तृत जानकारी दें। उन्होंने कहा कि यदि एक भी व्यक्ति दवा खाने से वंचित रह जाता है या किसी कारण बस उसे दवा नहीं उपलब्ध कराया जाता है तो इसके जिम्मेदार संबंधित अधिकारी होंगे और उन अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही भी सुनिश्चित की जाएगी ।बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अनूप कुमार श्रीवास्तव, जिला विकास अधिकारी बिरेंद्र कुमार सिंह ,मुख्य जिला चिकित्सा अधिकारी अशोक कुमार एवं संबंधित विभाग के अधिकारी कर्मचारी मौके पर उपस्थित रहे।

Back to top button